fbpx

Basic Computer Knowledge PDF

0

Basic Computer  Knowledge PDF

 

Basic Computer Knowledge PDF:-  This basic computer knowledge book pdf is very useful for the upcoming competitive exams like SSC CGL, BANK, RAILWAYS, RRB NTPC, LIC AAO, and many other exams. This is basic computer knowledge in hindi very useful for the upcoming competitive exams like SSC CGL is very important for any competitive exam and this is very useful for it. this basic computer course FREE PDF will be very helpful for your examination.

 

MyNotesAdda.com is an online Educational Platform, where you can download free PDF for UPSC, SSC CGL, BANK, RAILWAYS, RRB NTPC, LIC AAO, and many other exams. Our computer notes in Hindi s very Simple and Easy. We also Cover Basic Topics like Maths, Geography, History, Polity, etc and study materials including previous Year Question Papers, Current Affairs, Important Formulas, etc for upcoming Banking, UPSC, SSC CGL Exams. Our PDF will help you to upgrade your mark in any competitive exam.

Basic Computer  Knowledge PDF

  1. कम्यूटर की पीढ़ियाँ
  2. कम्प्यूटर शब्द की उत्पत्ति तथा परिभाषा
  3. कम्यूटर में प्रयुक्त होने वाले शब्द संक्षेप
  4. कम्य्यूटर का विकास क्रम
  5. कम्प्यूटर सिस्टम के घटक
  6. स्टैण्डर्ड टूलबार कुंजीपटल शॉर्टकट
  7.  एम.एस. एक्सेल शॉटर्कट की
  8.  इंटरनेट शब्दावली
  9. कम्प्यूटर के अति महत्वपूर्ण प्रश्न

 

कम्प्यूटर ज्ञान की पीढ़ियाँ

 

कम्प्यूटर की प्रथम पीढ़ी की शुरूआत 1940 

 

 कम्प्यूटर की प्रथम पीढ़ी की शुरूआत 940 से मानी जाती है। इस जनरेशन Vacuum Tube tech में का प्रयोग किया गया था। इसमें मशीन भाषा का प्रयोग किया गया था। इसमें मेमोरी की तौर पर चुम्बकीय टेप एवं पचकार्ड का प्रयोग किया जाता था। इस पीढ़ी के कुछ कम्प्यूटरों के नाम इस प्रकार है- एनियक (ENIAC), एडसैक (EDSAC), एडबैक (EDVAC), यूनीवैक – 2 (UNIVAC), आईबीएम -704, आईबीएम-650, मार्क-2, मार्क-3, बरोज – 2202 (ENIAC)

कम्प्यूटर की द्वितीय पीढ़ी  ( 1956 से 1963 ) 

 

द्वितीय पीढ़ी की शुरूआत 1956 से 1963 तक मानी जाती है। इस पीढ़ी में [Trasistor ] का प्रयोग किया गया है। जिसका विकास Willon Shockly ने 1947 में किया था। इसमें असेम्बली भाषा का प्रयोग किया गया था। इसमें मेमोरी के तौर पर चुम्बकीय टेप का प्रयोग किया जाने लगा था। इस पीढ़ी के कम्प्यूटरों में आईबीएम- 40 प्रमुख हैं, जो बहुत ही लोकप्रिय एंव बड़े पैमाने पर उत्पादित किया गया था। इस पीढ़ी के अन्य कम्प्यूटर थे – IBM-1602, IBM-7094., CDS-3600, RCA-501. यूनिवेक – 1107 आदि

 

कम्प्यूटर की तीसरी पीढ़ी (1964)

 

कम्प्यूटर की तीसरी पीढ़ी की शुरूआत 1964 से मानी जाती है। इस जनरेशन में IC का प्रयोग किया जाने लगा था। IC का पूरा नाम IRIGATED CIRCUIT  है।  IC का विकास 1958 में JACK KEBLY ने किया था। इसमें IC TECHNOLOGY (SSI) का प्रयोग किया गया था। SSI पूरा नाम SMALL SCALE INTERAGATION है। इसमें हाई लेविल भाषा का प्रयोग प्रोग्रामिंग के लिए किया जाता है। इसमें मेमोरी

के तौर पर चुम्बकीय डिस्क का प्रयोग किया जाने लगा था। इस पीढ़ी के कम्प्यूटरों की मदद से मल्टीप्रोग्रामिंग , एवं मल्टी प्रोससिंग सम्भव हो गया ।  

 

कम्प्यूटर की चौथी पीढ़ी की शुरूआत 1971 से 1989 

 

कम्प्यूटर की चौथी पीढ़ी की शुरूआत 1971 से 1989 तक मानी जाती है। इस जनरेशन IC की यह तकनीकी VLCI थी इसका पूरा नाम VERY LARGE SCALE INTERATION हैं। इसमें हाई लेवल भाषा का प्रयोग प्रोग्रामिंग के लिए किया जाता है। इसमें केवल एक सिलिकॉन चिप पर कम्प्यूटर के सभी एकीकृत परिषथों को लगाया जाता है, जिस माइक्रोप्रोसेसर कहा जाता है। इस चिपों का प्रयोग करने वाले कम्प्यूटरों

को माइक्रों कम्प्यूटर कहा जाता है।

कम्प्यूटर की पाँचवी पीढ़ी की शुरूआत 1989 

 

कम्प्यूटर की पाँचवी पीढ़ी की शुरूआत 1989 से मानी जाती है। इस जनरेशन में IC की आधुनिक तकनीकी का प्रयोग किया जानें लगया था।  IC की यह तकनीकी

ULSI थी इसका पूरा नाम ULTRA LAGRE SCALE INTERATION है। इसमें हाई लेवल भाषा का प्रयोग प्रोग्रामिंग के लिए किया जाता है। जो अधिक सरल है। इस भाषाओं में GUI Interface का प्रयोग किया जाता हे।

कम्प्यूटर शब्द की उत्पत्ति तथा परिभाषा

 

कम्प्यूटर शब्द की उत्पत्ति लेटिन भाषा के कम्प्यूटर शब्द से मानी जाती है जिसका अर्थ है गणना करना। कम्प्यूटर जिसे हिंदी में अभिकलित्र अथवा संगणक कहा जाता है, को सामान्यतया एक ऐसे यंत्र के रूप में जाना जाता है| जो अत्यन्त तीब्र गति से गणनाएँ करने मे समक्ष है।

 

जो इसके अर्थ को और भी अधिक व्यापक बना देते हैः-

 

C
Commonly
O
Operation
M
Machine
P
Particularly
U
Used for
T
Technical
E
Educational
R
Research

 

अतः कम्प्यूटर का तात्पर्य एक ऐसे यन्त्र से है, जिसका उपयोग गणना प्रक्रिया, यान्त्रकी, अनुसांधन, शोध आदि कार्यों में किया जाता है।

 

अगली पीढ़ी के कम्प्यूटर  

 

नैनो कम्प्यूटर:- नैनो स्तर (10-9 M) पर निर्मित नैनो ट्यूब्स के प्रयोग से अत्यंत छोटे व विशाल क्षमता वाले कम्प्यूटर के विकास का

                     प्रयास किया जा रहा है।

क्वांटम कम्प्यूटर:- यह प्रकाश के क्वांटम सिद्धांत पर आधारित है जिसमें  आंकड़ों का संग्रहण और संसाधन क्वांटम कण कहते

है। ये कण युग्म में रहते हैं और क्यू बिट्स कहते हैं।

 







Topic name:- RPSC LDC Computer Basic Knowledge PDF

Number of Pages:- 01

Click here to download:-  RPSC LDC Computer Basic Knowledge PDF

DOWNLOAD MORE PDF

Maths Notes CLICK HERE
English Notes CLICK HERE
Reasoning Notes CLICK HERE
Indian Polity Notes CLICK HERE
General Knowledge CLICK HERE
General Science Notes
CLICK HERE
MyNotesAdda.com will update many more new pdf and study materials and exam updates, keep Visiting and share our post, So more people will get this.

This PDF is not related to MyNotesAdda and if you have any objection over this pdf , you can mail us at [email protected]

TAGS:-  LDC study material pdf, LDC book pdf download, Lakshya LDC book pdf free download, LDC books pdf, Rpsc LDC syllabus 2019, Rpsc LDC typing syllabus, Rpsc LDC paper 2018 pdf download, Rsmssb LDC syllabus 2018 pdf

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x