fbpx

Environment study || Environment of study

0

Environment study || Environment of study

Environment study:- Hello Students For the students who are preparing for the upcoming exams, we have brought very important Environment (Environment) notes to all of you will know that (Railway, SSC CGL, DEO, UPSC) or environmental notes in Hindi in many exams. Questions are asked from PDF so it is very necessary to prepare it.

 

Environment of study:- Friends, through this post today, we will provide you the notes of Environment of Study! Which will prove very useful for UPSC, UPPSC, MPPSC, RAS and NET and all other competitive exams!

 

     प्रदूषण

  1. हवा में तैरते हुए श्वसनीय सूक्ष्म कणों का आकार होता है — 5 माइक्रोन से कम
  2. जलवायु एवं स्वच्छ वायु गठबंधन (Climate and clean air coalition : CCAC ) विभिन्‍न देशों, नागरिक समाजों (Civil socities) व निजी क्षेत्रों का एक वैश्विक प्रयास है जो अल्पजीवी जलवायु प्रदूषकों को न्यूनीकृत कर प्रतिबद्ध है — वायु की गुणवत्ता को बेहतर बनाने हेतु
  3. यह प्रकृति में घटित होने वाली जैव निम्नीकरण प्रक्रिया का ही संवर्धन कर प्रदूषण को स्वच्छ करने की तकनीक है — जैवोपचारण (बायोरेमीडिएशन)
  4. जैवोपचारण के लिए विशेषत: अभिकल्पित सूक्ष्म जीवों को सृजित करने के लिए उपयोग किया जा सकता है — आनुवंशिक इंजीनियरी का (Genetic Engineering)
  5. मानक-जनित पर्यावरणीय प्रदूषण कहलाते हैं — एन्श्रोपोजेनिक
  6. वे पदार्थ जिनसे प्रदूषण फैलता है, कहलाते हैं — प्रदूषक
  7. जैव निम्नीकरणीय रहित प्रदूषक मुख्यतया पर्यावरण में प्रवेश करते हैं — मानव-जनित (एंथ्रोपोजेनिक) प्रदूषण के कारण
  8. जैव-विघटित प्रदूषक है — वाहित मल
  9. ऐसे प्रदूषक जो सूक्ष्म जीवों जैसे-जीवाणु आदि के द्वारा समय के साथ प्रकृति में सरल, हानिरहित तत्वों में विधघटित कर दिए जाते हैं, कहलाते हैं — जैक-विघटित प्रदूषक
  10. कोयला, पेट्रोल, डीजल आदि का दहन मूल स्रोत है — वायु प्रदूषण का
  11. जब मानवीय या प्राकृतिक कारणों से वायुमंडल में उपस्थित गैसों के निश्चित अनुपात में (विषाक्त गैसों या कणकीय पदार्थों की वजह से) अवांछनीय परिवर्तन हो जाता है, तो इसे कहते हैं — वायु प्रदूषण
  12. वायु प्रदूषण के दो स्रोत हैं। (॥) प्राकृतिक स्रोत और (॥) मानवजनित स्रोत।वनाग्नि तथा ज्वालामुखी उद्गार, जैविक पदार्थों के सड़ने-गलने से निकलने वाली गैसें; जैसे-ससल्फर डाइऑक्साइड ($0,), नाइट्रोजन के ऑक्साइड (]२०%) इत्यादि आते हैं — प्राकृतिक स्रोत में
  13. जैव-अपघटनीय प्रदूषक है — सीवेज
  14. प्रकाश-रसायनी धूम कोहरे के बनने के समय उत्पन्न होता है — नाइट्रोजन ऑक्साइड
  15. प्रकाश रासायनिक धूम कोहरा (smog) शब्द बना है — Smoke और Fog के मिलने से

 




PART II

  1. जहां पर अधिक यातायात रहता है, वहां पर भी गर्म परिस्थितियों तथा तेज सूर्य विकिरण से निर्माण होता है — प्रकाश-रासायनिक धूम्र कोहरे का
  2. नाइट्रोजन के ऑक्साइड (NOx), ओजोन (O3) तथा पेरॉक्सीएसीटिल नाइट्रेट से बनता है — प्रकाश-रासायनिक धूम्र कोहरा
  3. सूर्य विकिरण वाले क्षेत्रों में या खास मौसम में धूम्र कोहरा अपूर्ण रूप से बनता है। ऐसी वायु को कहते हैं — भूरी वायु
  4. प्रकाश-रासायनिक धूम का बनना किनके बीच अभिक्रिया का परिणाम होता है  — NO2, O3तथा पेरॉक्सीऐसिटिल नाइट्रेट के बीच, सूर्य के प्रकाश की उपस्थिति में
  5. गर्म, शुष्क और तीव्र सौर विकिरण वाले महानगरों में वायुमंडलीय हाइड्रोकार्बन और वाहनों व बिजली संयंत्रों से निकलने वाली नाइट्रोजन ऑक्साइड सूर्य के प्रकाश में अभिक्रिया करके कई सारे द्वितीयक प्रदूषक बनाती है, जैसे — ओजोन, फॉर्मेल्डिहाइड और पैरॉक्सीएसिटिलनाइट्रेट (PAN) आदि
  6. इन अभिक्रियाओं को प्रकाश रासायनिक कहते हैं क्‍योंकि इनमें दोनों शामिल होते हैं — सूर्य का प्रकाश और रासायनिक प्रदूषक
  7. ऑक्सीजन व नाइट्रोजन के मिलने से नाइट्रिक ऑक्साइड (NO) बनती है। यह गैस वायु से मिलकर नाइट्रोजन डाइऑक्साइड (NO2) का निर्माण करती है। NO2 है  — भूरे रंग की तीखी गैस
  8. नवजात ऑक्सीजन (Nascent Oxygen) सूर्य के तीव्र प्रकाश की उपस्थिति में ऑक्सीजन के एक अणु (O2) से क्रिया करके बना लेती है — ओजोन (O3)
  9. परऑक्सिल मूलक या तो ऑक्सीजन के अणुओं से मिलकर ओजोन (O3) बना लेते हैं अथवा नाइट्रोजन डाइऑक्साइड (NO2) से मिलकर निर्माण करते हैं — पेरॉक्सीएसीटिल नाइट्रेट (PAN) का
  10. यह क्लोरोप्लास्ट को नुकसान पहुंचाता है। इस वजह से प्रकाश- संश्लेषण की क्षमता एवं पौधे का विकास कम हो पाता है। यह कोशिका के माइटोकॉन्ड्रिया में होने वाले इलेक्ट्रॉन यातायात प्रणाली (Electron Transport  Chain-ETC ) को बाधित करता है। यह एंजाइम प्रणाली को भी प्रभावित करता है — PAN
  11. मनुष्यों की आंखों में बहुत ज्यादा जलन या उत्तेजना पैदा करता है — PAN

 




Part III

  1. भारी ट्रक यातायात, निर्वाचन सभाएं, पॉप संगीत, तथा जेट उड़ान में से अधिकतम ध्वनि प्रदूषण का कारण है — जेट उड़ान
  2. किसी वस्तु से उत्पन्न सामान्य आवाज को कहते हैं — ध्वनि
  3. ध्वनि की इकाई है — डेसीवल (dB)
  4. अनियोजित औद्योगिक विकास, अत्यधिक मोटर वाहनों का प्रयोग तथा यांत्रिक दोषयुक्त विभिन्‍न प्रकार के वाहनों का परिचालन योगदान देते हैं — ध्वनि प्रदूषण करने में
  5. ध्वनि की गति से तेज चलने वाले जेट विमानों से उत्पन्न शोर को कहते है — सोनिक बूम (Sonic Boom)
  6. सोनिक बूम को व्यक्त किया जाता है — मैक इकाई (Mach Unit) में
  7. जो वस्तुएं ध्वनि की रफ्तार से चलती हैं, उनसे उत्पन्न शोर को कहते है — मैक-1
  8. सामान्य स्थितियों में वातावरण में प्रदूषण उत्पन्न करने गली गैस है — कार्बन मोनोऑक्साइड (CO)
  9. कार्बन मोनोऑक्साइड (CO) जो कि रंगहीन (Colourless) तथा अति विषिली (Highly Poisonous) होती है — एक प्रमुख प्राथमिक वायु प्रदूषक (Air Pollutant) है
  10. वे वायु प्रदूषक जो प्रदूषक स्रोत से सीधे वायु में मिलते हैं, कहलाते हैं — प्राथमिक प्रदूषक
  11. ऐसे वायु प्रदूषक जो प्राथमिक वायु प्रदूषकों तथा साधारण वातावरणीय पदार्थों की क्रिया के फलस्वरूप उत्पन्न होते हैं, जाने जाते हैं — द्वितीयक वायु प्रदूषक
  12. पीएएन (Peroxyacety1 Nirtate), ओज़ोन तथा स्मॉग (Smog) है — द्वितीयक प्रदूषक
  13. सलल्‍फर के ऑक्साइड (मुख्यत: सल्फर डाइऑक्साइड), नाइट्रोजन के ऑक्साइड, कार्बन मोनोऑक्साइड हैं — प्राथमिक प्रदूषक
  14. अधूरे प्रजज्व्ललन के कारण मोटर कार एवं सिगरेट से निकलने वाली रंगहीन गैस है — कार्बन मोनोऑक्साइड
  15. यह रक्त के हीमोग्लोबिन के साथ क्रिया करके एक स्थायी यौगिक बना लेती है, जिससे हीमोग्लोबिन ऑक्सीजन को ऊतकों तक नहीं पहुंचा पाता है। यह मानव स्वास्थ्य के लिए अत्यंत हानिकारक गैस है — कार्बन मोनोऑक्साइड
  16. मोटर वाहनों से निकलने वाली निम्न में से कौन-सी एक मुख्य प्रदूषक गैस है — कार्बन मोनोऑक्साइड

Part IV

  1. वाहनों में पेट्रोल के जलने से धातु वायु को प्रदूषित करती है — लेड
  2. इंजन में नॉकिंग (Knocking) रोकने के लिए प्रयुक्त किया जाता है — लेड को
  3. बच्चों में दिमाग के विकास में बाधा पहुंचाता है, उनके बुद्धिलब्धि लेवल (I.Q.) को घटाता है तथा वयस्कों में हृदय व श्वसन संबंधी बीमारियों को उत्पन्न करता है — लेड
  4. वायु प्रदूषकों में से जो रक्त धारा को दुष्प्रभावित कर मौत उत्पन्न कर सकता है — कार्बन मोनोऑक्साइड
  5. वायु प्रदूषक ऑक्सीजन की अपेक्षा अधिक शीचघ्रता से रक्त के हीमोग्लोबिन में घुल जाता है — कार्बन मोनोऑक्साइड
  6. यह गैस हीमोग्लोबिन अणुओं से ऑक्सीजन की तुलना में 240 गुना से 300 गुना अधिक तेजी से संयुक्त हो जाती है, जिस कारण वायु में पर्याप्त ऑक्सीजन होने पर भी सांस लेने में कठिनाई होती है और घुटन महसूस होने लगती है — कार्बन मोनोऑक्साइड
  7. ओजोन, हाइड्रोजन सल्फाइड, कार्बन डाइऑक्साइड तथा कार्बन मोनोऑक्साइड में से जो वायु प्रदूषक सर्वाधिक हानिकारक है, वह है — कार्बन मोनोऑक्साइड
  8. भूमिगत जल को दूषित करने वाले अजैविक प्रदूषक हैं — आर्सेनिक
  9. भारत में कई जगहों पर भूमिगत जल आर्सनिक से संक्रमित होते हैं। यह संक्रमण मुख्यतया प्रकृति में पाए जाने वाले उत्पन्न आर्सेनिक से होता है, जो उत्पन्न होता है — बेडरॉक (Bed Rock) से
  10. आर्सेनिक के लगातर संपर्क से बीमारी हो जाती है — ब्लैक फुट
  11. विश्व स्वास्थ्य संगठन (W.H.O.) के मानक के अनुसार, आर्सनिक की मात्रा होनी चाहिए — 0.05 मिग्रा./लीटर
  12. धान का पौधा बेहतर अवशोषक माना जाता है — आर्सेनिक का
  13. भू-जल के जरिए आर्सनिक अनाज में पहुंच रहा है। इससे प्रभावित हो रही है — समूची खाद्य श्रृंखला
  14. उर्वरक के अत्यधिक प्रयोग से होता है — मृदा प्रदूषण, जल प्रदूषण, वायु प्रदूषण
  15. यह प्रदूषण विभिन्‍न प्रकार के फसलों के माध्यम से मानव एवं पशुओं के आहार श्रृंखला में भी पहुंचता है तथा विभिन्‍न प्रकार की गंभीर बीमारियों से मनुष्य एवं पशुओं को ग्रस्त करता है — उर्वरक

 




 

Related blog from Environment




Download PDF

Today, we are sharing an Environment study || Environment of study notes. This is very useful for the upcoming competitive exams like SSC CGL, RAILWAYS, BANK,  LIC AAO, RRB NTPC,  and many other exams.  Environment Hand Written Notes are very important for any government exam.

Our Environment study || Environment of study notes. It is very Simple and Easy to learn. We also Cover Basic Topics like Maths, History, Geography, Polity, etc. and study materials including previous Year Question Papers, Important Formulas, Current Affairs, etc for upcoming Banking, UPSC,  Exams.

MyNotesAdda.com is an online Educational Platform, where you can download free PDF for SSC CGL, UPSC, BANK, LIC AAO, RAILWAYS,  RRB NTPC, and many competitive exams.

 

Tags: Environment study , Environment of study notes , Environment Hand Written Notes , environmental notes in Hindi

Leave a Reply

Please Login to comment
  Subscribe  
Notify of
error: Content is protected !!