fbpx

Questions for Environment || Questions on Environment

0

Questions for Environment || Questions on Environment

Questions for Environment – Uptet 2019, you must have made the preparation of this subject quite fast. This topic also gives us good numbers in uptet. But for this, we also have to prepare well. That is why we have brought environment notes in Hindi for you. This post is helpful to clear the questions for environment quiz.

 

After reading this complete notes, you must tell us how you liked the environmental studies notes in Hindi. We hope that you will like the environmental studies question in Hindi. We should value our natural resources and use them under natural discipline. At the end of the post, we define environment related questions .

 

 

पारिस्थितिक

  1. 10 प्रतिशत नियम संबंधित है… — ऊर्जा का खाद्य के रूप में एक पोषी स्तर से दूसरे पोषी स्तर तक पहुंचने से
  2. जीव से जैवमंडल तक जैविक संगठन का सही क्रम है — >जनसंख्या -> समुदाय -> पारिस्थितिक तंत्र -> भू-दृश्य
  3. स्वपोषी (स्वपोषणज) स्तर पर उत्पादन को कहा जाता है  — प्राथमिक उत्पादकता
  4. परपोषी (विषम पोषणज) स्तर के उत्पादन के संदर्भ में आता है — द्वितीयक उत्पादकता
  5. एक पारिस्थितिक तंत्र में ऊर्जा की मात्रा एक पोषण स्तर से अन्य स्तर में स्थानांतरण के पश्चात — घटती है
  6. कुछ कारणों वश यदि तितलियों की जाति (स्पीशीज) की संख्या में बड़ी गिरावट होती है तो इसके जो संभावित परिणाम हो सकते हैं, वे हैं — कुछ पौधों के परागण पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। इसके कारण बर्रों, मकड़ियों और पक्षियों की कुछ सर प्रजातियों की समष्टि में गिरावट हो सकती है।
  7. पारिस्थितिकी पारस्परिक संबंधों का अध्ययन है — जीव और वातावरण के बीच
  8. जीव विज्ञान की एक शाखा है जिसमें जीव समुदायों तथा उनके वातावरण के मध्य पारस्परिक संबंधों का अध्ययन करते हैं — पारिस्थितिकी
  9. अर्नेस्ट हैकल ने पारिस्थितिकी (Ecology) शब्द का प्रयोग किया — Oikologie के नाम से
  10. ‘जीवधारियों के कार्बनिक और अकार्बनिक वातावरण और पारस्परिक संबंधों के अध्ययन को पारिस्थितिकी अथवा पारिस्थितिकी-विज्ञान’ कहते हैं, यह बताया — अर्नेस्ट हैकल ने
  11. पारिस्थितिकी प्रकृति की संरचना एवं प्रक्रिया का अध्ययन है, यह बताया — यूजीन ओडम ने
  12. सर्वप्रथम ‘पारिस्थितिकी तंत्र” (Ecosystem) की संकल्पना प्रस्तावित की गई — वर्ष 1935 में ए.जी. टांसले द्वारा
  13. पारिस्थितिकी तंत्र की विचारधारा को बायोसिनोसिस (Biocoenosis) तथा माइक्रोकॉस्म कहा — कार्ल मोबियस तथा फोर्ष्स ने
  14. प्रकृति की एक कार्यात्मक इकाई (Functional Unit) के रूप में जानी जाती है — पारिस्थितिकी तंत्र

Part II

 

  1. प्रारिस्थितिक तंत्र के संबंध में सही कथन हैं — पारिस्थितिकी तंत्र किसी निश्चित स्थान-समय इकाई के समस्त जीवों तथा भौतिक पर्यावरण का प्रतिनिधित्व करता है, यह एक कार्यशील इकाई है, इसकी अपनी उत्पादकता होती है।
  2. पारिस्थितिक तंत्र के विषय में सही नहीं है — यह एक बंद तंत्र होता है
  3. पारितंत्र (ईकोसिस्टम) शब्द का सर्वेत्कृष्ट वर्णन है — “जीवों (ऑर्गनिज्म्स) का समुदाय और साथ ही वह पर्यावरण जिसमें वे रहते हैं
  4. किसी क्षेत्र के सभी जीवधारी तथा वातावरण में उपस्थित अजैव घटक — “पारितंत्र (Ecosystem) का
  5. कृत्रिम पारितंत्र है — खेत
  6. कृत्रिम पारिस्थितिक तंत्र है — धान का खेत
  7. घास स्थल, वन तथा मरुस्थल उदाहरण हैं — स्थलीय पारिस्थितिक तंत्र के
  8. झील, नदियां तथा समुद्र आते हैं — जलीय पारिस्थितिकीय तंत्र में
  9. किसी निश्चित क्षेत्र में प्राणियों की संख्या की सीमा, जिसे पर्यावरण समर्थन कर सकता है, कहलाती है — वहन क्षमता
  10. बिना पर्यावरण की रुकावट के प्रजनन की क्षमता कहलाती है — जैविक विभव (Biotic potential)
  11. एक पद, जो केवल जीव द्वारा ग्रहण किए गए दिकस्थान का ही नहीं, बल्कि जीवों के समुदाय में उसकी कार्यात्मक भूमिका का भी वर्णन करता है — पारिस्थितिक कर्मता
  12. पृथ्वी के सर्वाधिक क्षेत्र पर फैला हुआ पारिस्थितिकी तंत्र है — सामुद्रिक
  13. समुद्री जल में सर्वाधिक व्याप्त लवण है — सोडियम क्लोराइड
  14. पारिस्थितिकी संतुलन बनाए रखने में मदद करता है — वनारोपण, वर्षा जल प्रबंधन तथा जैवमंडल भंडार
  15. वन्य जीव संरक्षण एवं पर्यावरण में व्याप्त प्रदूषण का निवारण मददगार है — पर्यावरणीय संतुलन बनाए रखने में
  16. भारत में पारिस्थितिक असंतुलन का एक प्रमुख कारण है — वनोन्मूलन
  17. वह कार्य जिससे पारिस्थितिक संतुलन बिगड़ता है. — वृक्ष काटना
  18. पारिस्थितिकी तंत्र (Ecosystem) में उच्चतम पोषण स्तर का स्थान प्राप्त है — सर्वाहारी (Omnivorous) को
  19. पारितंत्र में खाद्य श्रृंखलाओं के संदर्भ में जिस प्रकार के जीव अपघटक जीव कहलाते हैं — कवक, जीवाणु


Part III

 

  1. पारिस्थितिकी तंत्र का एक जीवीय संघटक नहीं है — वायु
  2. पारिस्थितिकी निकाय में ऊर्जा का प्राथमिक स्रोत है. — सौर ऊर्जा
  3. अपघटक वे जीव होते हैं, जो अपक्षय या सड़न की प्रक्रिया को तेज करते हैं जिससे पुनः चक्रीकरण हो सके — पोषक तत्वों का
  4. निर्जीव कार्बनिक तत्वों को अकार्बनिक यौगिकों में तोड़ते हैं — अपघटक
  5. सूक्ष्म जीवों की एक विस्तृत किस्म जैसे फफूंद, जीवाणु, गोलकृमि,
  6. प्रोटोजोआ और केंचुआ भूमिका अदा करते हैं — अपघटकों की
  7. प्राथमिक उपभोक्ता हैं — चींटी तथा हिरण
  8. किसी खाद्य श्रृंखला में मुख्यतः प्राथमिक उपभोक्ता की श्रेणी में आते हैं — शाकाहारी प्राणी
  9. अपघटक (decomposer) तथा प्राथमिक उपभोक्ता दोनों की श्रेणी में आती है — चींटी
  10. वे जीवधारी जो अपना भोजन प्राथमिक उत्पादकों (हरे पौधों) से प्राप्त करते हैं, कहलाते हैं — प्राथमिक उपभोक्ता
  11. समुद्री वातावरण में मुख्य प्राथमिक उत्पादक होते हैं — फाइटो प्लैन्कटॉन्स
  12. पारिस्थितिक तंत्र के जैविक घटकों में उत्पादक घटक हैं — हरे पौधे
  13. हरे पौधे सूर्य के प्रकाश का उपयोग करके अपना आहार स्वयं निर्मित करते हैं — प्रकाश संश्लेषण की विधि द्वारा
  14. प्रथम पोषक स्तर के अंतर्गत आते हैं — हरित पादप
  15. पौधे हरे रंग के लवक (क्लोरोफिल) की सहायता से करते हैं — प्रकाश संश्लेषण
  16. जीवित घटकों में शामिल होने के कारण पारिस्थितिक तंत्र से संबंधित हें — हरे पौधे
  17. जीवों द्वारा ऊर्जा का प्रवाह होता है — एकदिशीय (Unidirectional)
  18. आहार श्रंंखला का निर्माण करते हैं — घास, बकरी तथा मानव
  19. जीवभार का पिरामिड, जिस पारिस्थितिक तंत्र में उलट जाता है, वह है — तालाब
  20. पारिस्थितिकीय तंत्र के विभिन्‍न स्तरों के प्रति इकाई क्षेत्र में उपस्थित जीवभार के रेखाचित्रीय निरूपण को कहते हैं — जीवभार का पिरामिड
  21. स्थलीय पारिस्थितिकीय तंत्र में जीवभार का पिरामिड होता है — सीधा (Upright)

Part  IV

  1. पारिस्थितिकी तंत्र में DDT का समावेश होने के बाद किस एक जीव में उसका संभवत: अधिकतम सांद्रण प्रदर्शित होगा — सांप
  2. जब कुछ प्रवदूषक आहार श्रृंखला के साथ सांद्रता में बढ़ते जाते हैं और ऊतकों में जमा हो जाते हैं, तो इस घटना को कहते हैं — जैविक आवर्धन (Biomangnification)
  3. DDT जैसे प्रदूषक होते हैं — जैव अनिम्नीकरणीय (Non biodegrdable)
  4. पारिस्थितिकी मित्र नहीं है — यूकेलिप्टस
  5. यूकेलिप्टस को उसकी अत्यधिक जल ग्रहण शक्ति के कारण घोषित किया गया है — पर्यावरण शत्रु
  6. वृक्ष जो पर्यावरणीय संकट माना जाता है — यूकेलिप्टस
  7. ‘लैन्टिक आवास” का उदाहरण है — तालाब एवं दलदल
  8. स्थिर जल के आवास लैन्टिक आवास के अंतर्गत आते हैं, इनके उदाहरण हैं — आर्द्रभूमि, तालाब, झील, जलाशय
  9. बहते जल के आवास लोटिक (Lotic) आवास कहे जाते हैं, जैसे — नदी
  10. दो भिन्‍न समुदायों के बीच का संक्रान्ति क्षेत्र कहलाता है — इकोटोन
  11. सर्वाधिक स्थायी पारिस्थितिक तंत्र है — महासागर
  12. सबसे स्थायी पारिस्थितिक तंत्र है — समुद्री
  13. पारिस्थितिक तंत्र में तत्त्वों के चक्रण को कहते हैं — जैव भू-रासायनिक चक्र
  14. जल चक्र को ओडम (Odum) ने सम्मिलित किया है — गैसीय चक्र में
  15. पारिस्थितिकी स्थायी मितव्ययिता है ‘-यह जिस आंदोलन का नारा है — चिपको आंदोलन
  16. नर्मदा नदी के ऊपर बनाई जा रही बहुउद्देशीय बांध परियोजना को रोकने के लिए चलाया गया आंदोलन है — नर्मदा बचाओ आंदोलन


Related Blogs From Environmental

Download PDF:- Environmental PDF In Hindi

Environment means all natural environments such as land, air, water, plants, animals, solid materials, garbage, sunlight, forest and other things. Healthy environment maintains the balance of nature and at the same time helps all living things on earth to grow, nurture and develop. However, as a result of some technological advancements, man-made things are distorting the environment in many ways, which is ultimately disturbing the balance of nature. We are risking our life as well as the existence of future life on this planet.

 

This is an important topic for uptet. For which we have to prepare well. For Uptet paryawaran adhyayan, it would be helpful to first read the book of ncert class 6,7,8. This will be very good for you. And you will be scoring well in the uptet environment. We will provide you many PDFs through the article today. Which will help you a lot.

 

Environmental Notes in Hindi PDF, Environmental Studies PDF Notes in Hindi, Environment Study Notes in Hindi, Environmental Studies Book pdf download, ctet Environmental Studies PDF, Environmental Studies Book in Hindi PDF, Environmental Book in Hindi PDF, EVS Questions for ctet, UPTET EVS NOTES IN HINDI, UPTET ENVIRONMENT NOTES IN HINDI, UPTET PARYAVARAN NOTES IN HINDI

 

 

Tags :- Environmental Notes in Hindi PDF, Environmental Studies PDF Notes in Hindi, Environment Study Notes in Hindi, Environmental Studies Book pdf download, ctet Environmental Studies PDF, Environmental Studies Book in Hindi PDF, Environmental Book in Hindi PDF, EVS Questions for ctet, UPTET EVS NOTES IN HINDI, UPTET ENVIRONMENT NOTES IN HINDI , Questions for Environment , environment related questions .

Leave a Reply

Please Login to comment
  Subscribe  
Notify of
error: Content is protected !!